Amit Shah

मोदी के नेतृत्व में देश में एक भ्रष्टाचार विहीन, पारदर्शी सरकार

भारतीय जनता पार्टी के राष्ट्रीय अध्यक्ष अमित शाह ने कहा कि भारतीय जनता पार्टी ने प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी के नेतृत्व में देश को एक भ्रष्टाचार विहीन, पारदर्शी, निर्णायक, लोकाभिमुख और कड़े फैसले लेने वाली सरकार दी है जो सदैव आम-जन की समस्याओं के प्रति संवेदनशील रहती है और गाँव, गरीब, किसान, दलित, आदिवासी, पिछड़े, युवाओं एवं महिलाओं के कल्याण के लिए सतत कार्यरत रहती है।

अमित शाह 26 मई , शनिवार को भाजपा के केन्द्रीय मुख्यालय में प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी  के नेतृत्व में केंद्र की भाजपा सरकार के चार वर्ष पूर्ण होने के उपलक्ष्य में आयोजित प्रेस कांफ्रेंस को संबोधित किया और मोदी सरकार की उपलब्धियों और गरीब-कल्याण की नीतियों पर विस्तार से चर्चा की।

उन्होंने कहा कि प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी के नेतृत्व में केंद्र की भारतीय जनता पार्टी द्वारा देश भर में चल रही विकास की अविरल गाथा में अटूट विश्वास रखते हुए 2019 में देश की जनता एक बार फिर से अवश्य प्रधानमंत्री श्री नरेन्द्र मोदी जी और भारतीय जनता पार्टी को पूर्ण जनादेश के साथ सेवा का मौक़ा देगी।

शाह ने कहा कि मैं केंद्र की भारतीय जनता पार्टी सरकार के चार सफल वर्ष पूर्ण होने के अवसर पर देश के सर्वाधिक लोकप्रिय जन-नेता प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी एवं उनकी पूरी कैबिनेट को हार्दिक बधाई देता हूँ। इस अवसर पर मैं भारतीय जनता पार्टी के करोड़ों कार्यकर्ताओं का भी अभिनंदन करता हूँ जिन्होंने सरकार के लोक-कल्याणकारी कार्यों को देश की आम जनता तक पहुंचाया और जनता की भावनाओं, आशाओं व आकांक्षाओं को सरकार तक पहुंचाने का सफल प्रयास किया है।

शाह ने कहा कि देश 2014 का जनादेश कांग्रेस की यूपीए सरकार के कारण देश में आये हताशा और निराशा के माहौल को ख़त्म कर आशा और उमंगों को परवाज देने वाला जनादेश था।

उन्होंने कहा कि संसदीय दल का नेता चुने जाने के बाद संसदीय दल की पहली ही बैठक में मोदी जी ने स्पष्ट कर दिया था कि केंद्र की भारतीय जनता पार्टी सरकार देश के गाँव, गरीब, किसान, दलित, पिछड़े, आदिवासी, युवा एवं महिलाओं के कल्याण के प्रति समर्पित सरकार होगी और हम देश के गौरव को दुनिया में आगे बढ़ाने का काम करेंगे।

उन्होंने कहा कि आज चार साल बाद जब हम पीछे मुड़ कर देखते हैं तो यह स्पष्ट होता है कि प्रधानमंत्री ने उन संकल्पों को अक्षरशः चरितार्थ कर दिखाया है।

उन्होंने कहा कि आजादी के बाद पहली बार लोगों को इस बात की अनुभूति हो रही है कि केंद्र की मोदी सरकार उनकी अपनी सरकार है और सरकार ने भी अनेक योजनओं के माध्यम से समाज के अंतिम व्यक्ति को स्पर्श किया है।

भाजपा अध्यक्ष ने कहा कि अंतर्द्वंद्वों से आजादी

  • मोदी जी ने केंद्र सरकार को कई प्रकार के अंतर्द्वंदों से भी बाहर निकालने का काम किया है।
  • 70 साल के इतिहास में जितनी भी सरकारें आई, वह कई तरह के द्वंद्वों में फंसी रहती थी
  • कि सरकार किसानों का विकास करेगी या उद्योगों को बढ़ावा देगी,
  • गाँवों का विकास करेगी या शहरों का विकास करेगी,
  • रिफॉर्म्स पर ध्यान देगी या लोक-कल्याण राज्य की स्थापना के लिए काम करेगी,
  • विदेश नीति को तवज्जो देगी या रक्षा नीति को,
  • सरकार को ब्यूरोक्रेट्स चलाएंगे या फिर जन-प्रतिनिधि।

लेकिन मोदी सरकार ने चार सालों में बिना किसी द्वंद्व में फंसे यह सिद्ध कर दिया है कि एक साथ किसानों का भी विकास हो सकता है तो उद्योगों का भी, साथ-साथ गाँवों का कायाकल्प भी किया जा सकता है और शहरों के इन्फ्रास्ट्रक्चर को भी डेवलप किया जा सकता है, रिफॉर्म्स भी हो सकते हैं और जन-कल्याण के कार्य भी बखूबी अंजाम दिए जा सकते हैं, साथ ही विदेश नीति और रक्षा नीति पर समान रूप से काम किया जा सकता है।

उन्होंने कहा कि आज ब्यूरोक्रेट्स और जनता द्वारा चुने हुए जन-प्रतिनिधियों के काम को लेकर भी कोई द्वंद्व नहीं है क्योंकि मोदी सरकार ने यह स्पष्ट कर दिया है कि योजनायें व नीतियाँ बनाना और इनकी मॉनिटरिंग जन-प्रतिनिधि करेंगे तो योजनाओं का इंप्लीमेंटेशन।

 

अमित शाह द्वारा कही गई बातें बिन्दुवार इसप्रकार हैं :

  •  दिन में 15 से 18 घंटे तक काम करने वाले प्रधानमंत्री  मोदी विश्व के सबसे लोकप्रिय एवं विजिनरी जन-नेता हैं, वे करोड़ों देशवासियों के लिए अक्षय ऊर्जा के अदम्य स्रोत हैं और हमें इस बात का गौरव है कि वे भारतीय जनता पार्टी के नेता हैं।
  •  नरेन्द्र मोदीके नेतृत्व में केंद्र में भारतीय जनता पार्टी की सरकार आने के बाद से देश की राजनीति में काफी सकारात्मक बदलाव आया है।
  • मोदी सरकार में देश में परिवारवाद, जातिवाद और तुष्टीकरण की राजनीति का अंत कर पॉलिटिक्स ऑफ़ परफॉरमेंस एंड डेवलपमेंट के एक नए युग की शुरुआत हुई है।
  • कांग्रेस की यूपीए सरकार के समय मीडिया में आये दिन घोटालों के टाइटल बनते थे, आज विकास संबंधी ख़बरें टाइटल बनती है।
  • मोदी सरकार ने अपने हर फैसले के केंद्र में देश के गाँव, गरीब, किसान, दलित, आदिवासी, पिछड़े, युवा एवं महिलाओं को रख कर ‘सबका साथ, सबका विकास’ के सिद्धांत को चरितार्थ करके दिखाया है।
  •  मोदी जी के नेतृत्व में देश भर में चल रही विकास यात्रा में एक के बाद एक, कई राज्य सरकारें जुड़ी हैं।
  • देश के 20 राज्यों में भारतीय जनता पार्टी और भाजपा गठबंधन की सरकारें हैं, आज देश के 70% भू-भाग और 65% आबादी पर एनडीए एवं भारतीय जनता पार्टी जनता की सेवा में अहर्निश कार्यरत है।
  • मोदी के नेतृत्व में 2014 के बाद से देश में हुए सभी चुनावों में भारतीय जनता पार्टी की जीत हुई है, हमारा मत प्रतिशत बेहतर हुआ है।
  • पश्चिम बंगाल, ओडिशा, केरल, तेलंगाना, आंध्र प्रदेश, तेलंगाना में भी स्थानीय निकाय के चुनाव में हमें अच्छी सफलता प्राप्त हुई है, यह मोदी सरकार के कामकाज पर जनता की मुहर है।

सरकार की लोक-कल्याणकारी योजनाओं के बारे में शाह का कहना था कि

  • आज देश में एक भी ऐसा गाँव नहीं हैं, जहां बिजली नहीं पहुँची है।
  • देश के हर गाँव में बिजली पहुंचाने के बाद अब मोदी सरकार ने ‘सौभाग्य योजना’ के तहत हर घर में बिजली पहुंचाने का बीड़ा उठाया है।
  • देश के एक करोड़ घरों में बिजली पहुंचाने का काम पूरा कर लिया है जबकि सरकार ने चार करोड़ अन्य घरों में बिजली पहुंचाने का लक्ष्य निर्धारित किया है जिसे 2019 के जनादेश से पहले-पहले पूरा कर लिया जायेगा।
  • प्रधानमंत्री जी ने 2022 तक देश के हर गरीब को छत देने की मुहिम शुरू की है, इस योजना के तहत एक करोड़ घर दिए जा चुके हैं।
  • प्रधानमंत्री उज्ज्वला योजना के तहत साढ़े तीन करोड़ से अधिक मुफ्त गैस कनेक्शन वितरित किये जा चुके हैं जबकि सरकार ने 8 करोड़ गरीब परिवारों को मुफ्त गैस कनेक्शन देने का लक्ष्य रखा है।
  • प्रधानमंत्री जी की एक पहल पर डेढ़ करोड़ लोगों ने सब्सिडी छोड़ी है जो जनता में मोदी सरकार के प्रति विश्वसनीयता का परिचायक है।
  • स्टैंड-अप, स्टार्ट-अप, स्किल इंडिया और मुद्रा योजना के माध्यम से स्वरोजगार की नई पहल की गई है और ‘जॉब सीकर’ को ‘जॉब क्रियेटर’ बनाने की राह तैयार की गई है।
  • अकेले मुद्रा योजना के माध्यम से देश के 9 करोड़ से अधिक लोगों को स्वरोजगार उपलब्ध कराया गया है।
  • 7 करोड़ से अधिक शौचालयों का निर्माण कर महिलाओं को सम्मान के साथ जीने का अधिकार दिया गया है।
  • बिना किसी घोटाले के लाखों करोड़ों के इन्फ्रास्ट्रक्चर डेवलपमेंट के काम सफलतापूर्वक पूरे हुए हैं। अभी हाल ही में भारतीय जनता पार्टी संगठन ने सरकार के साथ मिलकर देश के 16,850 गाँवों में सात जनोपयोगी योजनाओं उज्ज्वला योजना, सौभाग्य योजना, उजाला, जन-धन योजना, जीवन ज्योति बीमा योजना, जीवन सुरक्षा योजना और मिशन इन्द्रधनुष को शत-प्रतिशत पहुंचाने का महती कार्य किया है।
  • वर्षों से किसानों की लंबित मांग को पूरा कर न्यूनतम समर्थन मूल्य को लागत मूल्य का डेढ़ गुना करने का निर्णय लिया है।
  • ‘आयुष्मान भारत’ योजना के तहत नमो हेल्थ केयर के माध्यम से देश के 10 करोड़ परिवारों अर्थात् लगभग 50 करोड़ लोगों को निःशुल्क स्वास्थ्य बीमा उपलब्ध कराने का ऐतिहासिक निर्णय मोदी सरकार ने लिया है जो अपने आप में काफी महत्वपूर्ण है।
  • बेटी बचाओ, बेटी पढ़ाओ योजना से देश के 104 जिलों में लिंगानुपात सुधरा है और अब इसे देश के अन्य जिलों में भी लागू किया जा रहा है।
  • मातृ वंदन योजना के जरिये गर्भवती महिलाओं को सहायता पहुंचाई जा रही है, उन्हें 26 सप्ताह के अवकाश का भी लाभ पहुंचाया जा रहा है।
  • मिशन इंद्रधनुष योजना के जरिये बच्चों और माताओं का टीकाकरण अभियान सफलतापूर्वक पूरा किया जा रहा है
  • ट्रिपल तलाक से मुक्ति का अभियान भी मोदी सरकार ने शुरू किया है और हज पर महिलाओं को बिना मरहम यात्रा की छूट दी गई है। बुजुर्गों को मिलने वाले पेंशन में भी काफी वृद्धि की गई है।

राष्ट्रीय अध्यक्ष ने किसानों की भलाई के लिए सरकार द्वारा उठाये गए कदमों के बारे में पोइंटवाइज निम्न बातें कही :

  • मोदी सरकार कृषि बजट को दुगुना करने वाली पहली सरकार है।
  • प्रधानमंत्री फसल बीमा योजना के जरिये खेत से लेकर खलिहान तक किसानों की फसल को सुरक्षित करने का काम किया गया है।
  • मोदी सरकार के दौरान खाद्यान्न उत्पादन में लगभग 9.35% और बागवानी उत्पादों में लगभग 15% की वृद्धि हुई है जो आजादी के बाद सर्वाधिक है।
  • सोनिया-मनमोहन की यूपीए सरकार के दौरान जहां कृषि विकास दर ऋणात्मक थी, वहीं मोदी सरकार इसे 4.9% तक ले आई है जो कि एक रिकॉर्ड है।
  • दाल उत्पादन में भी 2010-14 की तुलना में लगभग 10% की वृद्धि हुई है और दाल के दामों को भी स्थिर रखने में सफलता प्राप्त हुई है।
  • किसानों को दी जाने वाली आवंटित राशि को लगभग दोगुना कर दिया गया है, साथ ही नीम कोटेड यूरिया के मदद से पेस्टीसाइड के उपयोग और खाद के उपयोग में कमी लाई गई है और खादों के दाम में भी कमी दर्ज की गई है।
  • किसानों के लिए स्वायल हेल्थ कार्ड, नीम कोटेड यूरिया, प्रधानमंत्री सिंचाई योजना, ई-मंडी इत्यादि योजनाओं के माध्यम से किसानों के जीवन-स्तर को ऊपर उठाने के लिए कार्य किये गए हैं।
  • मिट्टी की गुणवत्ता में सुधार लाने हेतु 12 करोड़ से अधिक स्वायल हेल्थ कार्ड वितरित किये गए हैं और 275 से अधिक प्रयोगशालाएं स्थापित की जा चुकी हैं।
  • लगभग 50 हजार करोड़ रुपये की लागत से प्रधानमंत्री कृषि सिंचाई योजना द्वारा हर खेत तक पानी की पहुँच सुनिश्चित की गई है।
  • राष्ट्रीय बांस मिशन के तहत बांसों को वृक्ष की श्रेणी से निकाल कर घास की श्रेणी में डाला गया है जिससे आदिवासी भाइयों-बहनों की आर्थिक स्थिति में व्यापक सुधार लाया जा सकेगा।
  • ई-नाम के माध्यम से किसानों को अपने उत्पादों पर बेहतर आय सुनिश्चित करने के लिए एकीकृत बाजार उपलब्ध कराया गया है।

शाह ने कहा कि इन्फ्रास्ट्रक्चर डेवलपमेंट  क्षेत्र में भी  कई कीर्तिमान 

  • भारतमाला परियोजना के तहत लगभग 5,35,000 करोड़ रुपये की लागत से 53,000 किलोमीटर हाइवे का निर्माण किया जा रहा है।
  • सेतुभारतम योजना के तहत लगभग 21,000 करोड़ रुपये की लगत से सभी नेशनल हाइवे को रेलवे क्रॉसिंग से मुक्त बनाया जा रहा है जिसे 2019 तक पूरा कर लिया जाएगा।
  • सबसे लंबी सुरंग और सबसे लंबा पुल भी मोदी सरकार ने बनाया है।
  • मुंबई-अहमदाबाद बुलेट ट्रेन योजना के जरिये भारत ने इस क्षेत्र में भी सफलता के नए आयाम गढ़े हैं।
  • ‘उड़ान’ के माध्यम से जन-साधारण को भी हवाई यात्रा के अवसर उपलब्ध कराये गए हैं।
  • लगभग दो लाख करोड़ रुपये की लागत से 100 शहरों को स्मार्ट सिटी के रूप में स्थापित करने का इनिशिएटिव लिया गया है।

शाह ने कहा कि आर्थिक विकास की डगर सफलता की कहानी है:

  • मोदी जी के नेतृत्त्व में भारत आज विश्व की पांचवी सबसे बड़ी अर्थव्यवस्था है और दुनिया की सबसे तेज गति से आगे बढ़ने वाली अर्थव्यवस्था है
  • महंगाई दर काबू में है
  • विदेशी मुद्रा भंडार अपने रिकॉर्ड स्तर पर है।
  • नोटबंदी और जीएसटी, दो ऐसे फैसले हैं जो देश की अर्थव्यवस्था को पारदर्शी अर्थव्यवस्था के रूप में तब्दील करते हुए व्यापक सुधार लाया गया है।
  • वर्तमान वित्तीय वर्ष की अनुमानित जीडीपी 7.4% है।
  • 2013 से 2017 के दौरान देश की जीडीपी लगभग 31% की दर से बढ़ी जबकि वैश्विक जीडीपी की ग्रोथ महज 4% की दर से बढ़ी है।
  • विदेशी मुद्रा भंडार 294 बिलियन डॉलर से बढ़कर 417 बिलियन डॉलर पहुँच गई है, एफडीआई 35 बिलियन डॉलर से 60 बिलियन डॉलर हो गई है।
  • मुद्रास्फीति और खाद्यान्न मुद्रास्फीति में भारी गिरावट दर्ज की गई है।
  • मोदी सरकार ने पॉलिसी पैरालिसिस से देश को बाहर निकाल कर विकास के पथ पर अग्रसर किया है।
  • डीबीटी से 431 योजनाओं को जोड़ कर लगभग 3.66 लाख करोड़ रुपये का सीधा लाभ लाभार्थियों के एकाउंट में ट्रांसफर किया है, इससे लगभग 83 हजार करोड़ रुपये की बचत हुई है।
  • जीएसटी को सर्व सहमति से संघीय ढांचे की व्यवस्था के अनुरूप लागू कर एक राष्ट्र, एक बाजार के कंसेप्ट को सिद्ध किया गया है।
  • प्रत्यक्ष करदाताओं में लगभग 50% की वृद्धि हुई है जबकि अप्रत्यक्ष करदाताओं की संख्या में भी भारी वृद्धि हुई है।
  • ‘भीम’ और ‘यूपीआई’ के जरिये डिजिटल पेमेंट को बढ़ावा मिला है और रूपे कार्ड का मार्किट शेयर 36% तक पहुँच गया है।
  • ‘मेक इन इंडिया’ अपने लक्ष्य की ओर तेज गति से अग्रसर है और इस क्षेत्र में हम काफी अच्छी प्रगति कर रहे हैं।
  • केवल चार सालों में मोबाइल बनाने वाली कंपनिया 2 से बढ़ कर 120 हो गई है और 1,32,000 करोड़ रुपये के राजस्व से 22 करोड़ मोबाइल सालाना बन रहे हैं।

भाजपा अध्यक्ष अमित शाह ने मोदी सरकार की विशेषताएं इसप्रकार गिनाई :

  •  मोदी सरकार एक सशक्त, निर्णायक और जनहित एवं राष्ट्रहित में त्वरित फैसले लेने वाली सरकार है।
  • अर्थव्यवस्था को पारदर्शी बनाने और काले-धन पर अंकुश लगाने के लिए कई कदम उठाये गए हैं।
  • विदेशी रास्तों से आने वाले काले-धन के रास्तों को बंद किया गया है और कई देशों से काले-धन पर अंकुश लगाने को लेकर समझौते हुए हैं।
  • 40 वर्षों से लंबित ‘वन रैंक, वन पेंशन’ की मांग को पूरा कर मोदी सरकार ने भूतपूर्व सैनिकों को सम्मान के साथ जीने का अधिकार दिया है।
  • नरेन्द्र मोदी जी की दृढ़ राजनीतिक इच्छाशक्ति और हमारे जवानों के अदम्य शौर्य के बल पर सर्जिकल स्ट्राइक करके दुनिया में संदेश दिया गया है कि हम अपनी सीमाओं की सुरक्षा के लिए कटिबद्ध हैं।
  • बेनामी संपत्ति क़ानून को कठोरता से लागू किया गया है और आर्थिक गबन करने वालों पर कड़ी कार्रवाई के लिए भी कड़े क़ानून बनाए गए हैं।
  • सार्वजनिक जीवन में शुचिता लाने के लिए और चुनावी राजनीति में से काले-धन के दुष्प्रभाव को निरस्त करने के लिए कैश में लिए जाने वाले चंदे की रकम को दो हजार रुपये तक सीमित करने का साहस
  • इलेक्टोरल बांड के जरिये चुनावी चंदे और चुनाव में पारदर्शिता लाने का काम किया गया है।

शाह ने कहा कि विश्व मंच पर भारत का सम्मान

  •  विश्व मंच पर भारत की मान-प्रतिष्ठा में काफी वृद्धि हुई है।
  • दावोस के मंच पर प्रधानमंत्री  का उद्घाटन भाषण विश्व मंच पर भारत के बढ़ते साख की बानगी बयान करता है।
  • सऊदी अरब, फलस्तीन और अफगानिस्तान में प्रधानमंत्री  नरेन्द्र मोदी जी को सर्वोच्च नागरिक सम्मान से नवाजा गया है, यह देश की 125 करोड़ जनता का सम्मान है।
  • प्रधानमंत्री जी के एक आह्वान पर योग को पूरे विश्व ने अपनाया है और यूनेस्को ने कुंभ मेले को सांस्कृतिक धरोहर के रूप में स्थान दिया है।
  • यूएन में मोदी जी ने हिंदी में उद्बोधन देकर पूरे विश्व में राष्ट्रभाषा की महत्ता को प्रतिष्ठित किया है।
  • हमारे लोकप्रिय प्रधानमंत्री जी की पहल पर अंतर्राष्ट्रीय सौर संगठन गठित किया गया
  • मोदी जी के नेतृत्व में भारत कई प्रतिष्ठित एवं अहम् संगठन में भागीदार बना।
  • 104 सैटेलाईट को एक साथ अंतरिक्ष में प्रक्षेपित करके अपने आप को अंतरिक्ष के क्षेत्र में एक शक्तिशाली राष्ट्र के रूप में प्रतिष्ठित किया है।
  • पेरिस जलवायु सम्मेलन में पूरी दुनिया ने भारत के नेतृत्व को स्वीकार किया है जो ऐतिहासिक है।

राष्ट्रीय अध्यक्ष द्वारा कही गई वे बातें जो अपने आप में शीर्षक हैं :

  • देश में विपक्ष द्वारा बार-बार झूठ बोलने, झूठ को जोर से बोलने और झूठ को सार्वजनिक रूप से बोलने की नकारात्मक परिपाटी की राजनीति की शुरुआत की गई है
  • विपक्ष ने इसी प्रकार की राजनीति को 2019 के लोक सभा चुनाव तक जारी रखने का निर्णय लिया है।
  • कांग्रेस एवं अन्य विपक्षी पार्टियां मोदी जी को हटाना चाहती है
  • मोदी जी के नेतृत्व में भारतीय जनता पार्टी देश से अव्यवस्था, भ्रष्टाचार और गरीबी को हटा कर स्थिरता और विकास के एजेंडे पर काम करना चाहती है।
  • जिन्होंने लोकतंत्र को ताक पर रख कर अब तक परिवार की ही राजनीति की, आज वे लोकतंत्र की दुहाई दे रहे हैं।
  • इमरजेंसी में लाखों लोगों को जेल में डालने वाले लोग हमें कह रहे हैं कि आज डर का माहौल है।
  • सभी तरह के मीडिया पर ताले लगाने वाले लोग मीडिया की स्वतंत्रता की बात कर रहे हैं, यह कितना हास्यास्पद है।
  • विपक्ष द्वारा देश में भय और डर का माहौल बनाया जा रहा है जबकि पूरे देश की जनता चट्टान की तरह प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी  के साथ खड़ी है।
Print Friendly, PDF & Email