Category Archives: कल्याण

Cotton Plant

मध्यप्रदेश आर्गेनिक कॉटन उत्पादन में देश का अग्रणी राज्य

मध्यप्रदेश आर्गेनिक कॉटन के उत्पादन में देश का अग्रणी राज्य गिना जाता है। दुनिया के आर्गेनिक कॉटन के कुल उत्पादन का 25 प्रतिशत उत्पादन मध्यप्रदेश में होता है। इसलिये प्रदेश में पैदा होने वाले आर्गेनिक कॉटन की राष्ट्रीय और अन्तर्राष्ट्रीय-स्तर पर बेहतर मार्केटिंग की आवश्यकता है। यह जानकारी आर.सी.व्ही.पी. नरोन्हा…

aadhar

आधार जोड़ने के लिए समय सीमा  30 जून तक बढ़ी

कल्याणकारी योजनाओं के साथ आधार जोड़ने के लिए सरकार चौथी बारसमय सीमा  30 जून तक बढ़ा दी है। इस संबंध में इलेक्ट्रॉनिक्स और सूचना प्रौद्योगिकी मंत्रालय ने एक विज्ञप्ति जारी कर कहा है कि समय सीमा 30 जून तक बढ़ा दी गई है। केंद्रीय प्रत्यक्ष कर बोर्ड, सीबीडीटी ने कल…

Dr Shyama

एक लाख रु की ‘डॉ.श्यामा प्रसाद मुखर्जी दुर्घटना सहायता योजना’

हरियाणा सरकार ने ‘डॉ. श्यामा प्रसाद मुखर्जी दुर्घटना सहायता योजना’ के नाम से एक लाख रुपये की एक नई योजना लागू करने का निर्णय लिया है। यह योजना पूरी तरह से नि:शुल्क है और पात्र लाभार्थियों द्वारा इसके लिए किसी भी प्रकार के प्रीमियम का भुगतान नहीं किया जाएगा। सामाजिक…

colony

मध्यप्रदेश में अवैध कॉलोनियों काे नियमित किया जायेगा

मध्यप्रदेश के नगरीय क्षेत्रों में 31 दिसम्बर, 2016 के पूर्व तक बसी हुई  770  अवैध कॉलोनियों को वैध किया जायेगा, इनमें न्यूनतम बसाहट 10 प्रतिशत होना चाहिये। इस संशोधन के बाद सभी 378 नगरीय निकायों की 4 हजार 759 अवैध कॉलोनियों को वैध करने की प्रक्रिया प्रारंभ हो सकेगी। प्रदेश…

Lok Adalat

देश के न्यायालयों में लगेगी दो माह में एक बार नेशनल लोक अदालत

न्यायमूर्ति रंजन गोगोई न्यायाधिपति सर्वोच्च न्यायालय एवं कार्यपालक अध्यक्ष राष्ट्रीय विधिक सेवा प्राधिकरण, नई दिल्ली के निर्देशानुसार वर्ष 2018 में प्रत्येक दो माह में एक बार सम्पूर्ण देश के सभी न्यायालयों में नेशनल लोक अदालत का आयोजन किया जायेगा। इन लोक अदालतों में समस्त प्रकार के प्रकरणों के निराकरण के…

Earthworm

केंचुआ खाद उत्पादन कर लखपति बना भागीरथ

नीमच जिले के बासनिया गाँव के किसान भागीरथ नागदा की गिनती समृद्ध और लखपति किसानों में की जाती है। भागीरथ को यह समृद्धि केंचुआ खाद उत्पादन से मिली है। सालाना एक हजार बैग केंचुआ खाद के कारोबार से किसान भागीरथ ढाई से तीन लाख रुपये तक आमदनी प्राप्त करते हैं।…

woman

नई इबारत लिख रही हैं खेतों में मजदूरी करने वाली

खेतों में मजदूरी करने वाली महिलाएं अब अगरबत्ती, पत्तल-दोने और साबुन बना रही हैं। ये महिलायें अपने इन छोटे उद्योगों से खुद की और गांव की गरीबी दूर करने की नई इबारत लिख रही हैं। यह कहानी है बड़वानी जिले के राजपुर ब्लाक के ग्राम सनगांव में 10 स्व-सहायता समूह…

Daughters

‘डाटर्स आर प्रेशियस‘ जन जागरूकता अभियान

जयपुर में संचालित ‘बेटियां अनमोल हैं ‘डाटर्स आर प्रेशियस‘ जन जागरूकता अभियान के तहत् शनिवार को टोंक रोड़ स्थित कृषि अनुसंधान केन्द्र सभागार में 700 से अधिक नये युवाओं ने ‘डेप रक्षक‘ का प्रशिक्षण प्राप्त किया। यह प्रशिक्षण प्राप्त कर डेप वॉलींटर्स राष्ट्रीय बालिका दिवस (24 जनवरी) को 3 हजार…

women

भारत में 18 % खेतिहर परिवारों का नेतृत्व करती हैं महिलाएं

नई दिल्ली, 31 अगस्त  (जनसमा)|   एनएसएसओ (राष्ट्रीय नमूना सर्वेक्षण कार्यालय) रिपोर्ट के मुताबिक भारत में लगभग 18 प्रतिशत खेतिहर परिवारों का नेतृत्व महिलाएं ही करती हैं। कृषि का कोई कार्य ऐसा नहीं है जिसमें महिलाओं की भागीदारी न हो। भारत सहित अधिकतर विकासशील देशों की अर्थव्यवस्था में ग्रामीण महिलाओं…

Telephone

’निर्भया कोष’’ के तहत इमरजेन्सी रेस्पोन्स सिस्टम का गठन

जयपुर, 13 जुलाई। केन्द्र सरकार के निर्देशानुसार निर्भया कोष के तहत “इमरजेन्सी रेस्पोन्स सिस्टम” (एन.ई.आर.एस.) के अन्तर्गत कम से कम एक कॉल सेन्टर प्रत्येक राज्य एवं केन्द्र शासित प्रदेश में स्थापित किया जायेगा। इस सिस्टम के लिए दूरसंचार विभाग द्वारा देशभर में “112” नम्बर सिंगल इमरजेन्सी रेस्पोन्स नम्बर के रूप…