भ्रष्टाचार साबित हुआ तो जेल जाने को तैयार : गोपाल

नई दिल्ली, 13 जून | दिल्ली के परिवहन मंत्री गोपाल राय ने सोमवार को कहा कि एप आधारित प्रीमियम बस सेवा योजना में भ्रष्टाचार साबित होने पर वह जेल जाने को तैयार हैं। उल्लेखनीय है कि एक खास समूह को फायदा पहुंचाने के आरोपों के बाद यह सेवा शुरू नहीं हो सकी है।

राय ने यहां संवाददाताओं से कहा, “इस योजना में कोई भ्रष्टाचार नहीं हुआ है। अगर कोई साबित कर दे कि एप आधारित इस प्रीमियम बस सेवा योजना में भ्रष्टाचार हुआ है तो मैं जेल जाने को तैयार हूं।”

दिल्ली सरकार ने अप्रैल में सम-विषम योजना के दूसरे चरण में घोषणा की थी कि प्रीमियम बस सेवा मध्य जून से शुरू कर दी जाएगी।

इस योजना के लिए एक जून से पंजीकरण शुरू हो गया था। लेकिन यह योजना शुरू नहीं हो पाई, क्योंकि उपराज्यपाल नजीब जंग ने इस सेवा के लिए अपनी स्वीकृति नहीं दी और परिवहन मंत्री से इसकी समीक्षा करने को कहा था।

भारतीय जनता पार्टी (भाजपा) के विधायक विजेंद्र गुप्ता ने भ्रष्टाचार निरोधक ब्यूरो (एसीबी) में यह आरोप लगाते हुए एक शिकायत दर्ज कराई है कि दिल्ली सरकार एक समूह को लाभ पहुंचा रही है और इसमें किसी नियम का पालन नहीं किया गया है।

राय ने कहा कि वह गुप्ता के आरोपों का जवाब देने के लिए मंगलवार को एसीबी कार्यालय जाएंगे।

मुख्यमंत्री अरविंद केजरीवाल के नेतृत्व वाली दिल्ली सरकार और उपराज्यपाल नजीब जंग के बीच शुरू से ही ठनी हुई है। केजरीवाल का आरोप है कि जंग सरकार की विकास योजनाओं में रोड़े अटकाते हैं।           –आईएएनएस

Print Friendly, PDF & Email