Social Media

दुनिया के 193 देशों में से 97 प्रतिशत सोशल मीडिया प्लेटफार्म पर

दुनिया के 193 देशों में से 97 प्रतिशत सोशल मीडिया प्लेटफार्म पर हैं। इनमें फेसबुक और इंस्टाग्राम शासकों और राजनेताओं में खासे लोकप्रिय हैं। इस अध्ययन के लिए दुनिया के नेताओं के नौ लाख से अधिक ट्विटर अकांउंट्स का विश्लेषण किया गया ।

ट्विटर पर निर्विवाद रूप से डोनाल्ड ट्रम्प ने 20 जनवरी, 2017 को अमरीका के राष्ट्रपति बनने के बाद  सबसे बड़ा प्रभाव डाला है।@realDonaldTrump 52 मिलियन से अधिक फाॅलोअर्स के साथ सबसे अधिक फाॅलो किये जाने वाले विश्व नेता है।

ट्विटर पर दूसरा स्थान पोप और तीसरा स्थान भारत के प्रधान मंत्री नरेन्द्र मोदी का है।

यह तथ्य एक अंतर्राष्ट्रीय संस्था ट्विइप्लोमेसी (Twiplomacy) के अध्ययन से सामने आया है। इस अध्ययन के लिए दुनिया के नेताओं के 903,450 ट्विटर कनेक्शन का विश्लेषण किया गया ।

ट्विटर पर पोप फ्रांसिस अरबी, फ्रेंच, जर्मन, इतालवी, पोलिश, पुर्तगाली, स्पेनिश और यहां तक ​​कि लैटिन में नौ अलग.अलग भाषाओं के अकांउंट्स रखते हैं और प्रत्येक भाषा में एक ही संदेश को ट्वीट किया जाता है। दिलचस्प बात यह है कि उनके लैटिन खाते में उनके अरबी और जर्मन खातों की तुलना में अधिक अनुयायी हैं।

ट्विटर पर वेनेजुएला के राष्ट्रपति ने 14 अलग-अलग भाषा के अकांउंट्स बनाए है। हालांकि केवल उनके अरबी, अंग्रेजी, पुर्तगाली, रूसी और स्पेनिश खाते सक्रिय रूप से ट्वीट कर रहे हैं।

सरकारों का मानना है कि सोशल मीडिया लोगों तक पहुंच बनाने का सबसे सुलभ और कारगर माध्यम है। औसतन, फेसबुक पेज ट्विटर की तुलना में अधिक लोकप्रिय होते हैं। अध्ययन से पता चला है कि ट्विटर पर 18,135 फाॅलोअर्स की तुलना में फेसबुक पर प्रति पेज औसत 37,103 लाइक्स हैं।

फोटो में 10 ट्विटर उपयोगकर्ताओं को टैग करना संदेश प्राप्त करने का एक प्रभावी तरीका है। रूसी विदेश मंत्रालय लगातार अपने दूतावासों द्वारा जारी कीे जाने वाली तस्वीरों में टैग करता है। फ्रेंच सरकार अपने मंत्रियों के फोटोज को टैग करती है।

सोशल मीडिया की उपयोगिता का अनुमान इसीसे लगाया जा सकता है कि संयुक्त राष्ट्र के 193 सदस्य देशों में से 97 प्रतिशत सोशल मीडिया प्लेटफार्म पर आधिकारिक उपस्थिति रखते हैं।

यह जानकारी डिजिटल प्लेटफॉर्म ट्विइप्लोमेसी ने एक वैश्विक अध्ययन के बाद मंगलवार को जारी किया।

अध्ययन में कहा गया है कि विश्व के 69 नेताओं में प्रत्येक के 1 मिलियन से अधिक फाॅलावर्स हैं।

केवल छह देश लाओस, मॉरिटानिया, निकारागुआ, उत्तरी कोरिया, स्वाजीलैंड और तुर्कमेनिस्तान की सोशल मीडिया प्लेटफॉर्म पर आधिकारिक उपस्थिति नहीं है।

Print Friendly, PDF & Email