woman e-rickshaw driver

नरसिंहपुर की प्रीति नगर की पहली महिला ई-रिक्शा चालक

मुख्यमंत्री जन-कल्याण संबल योजना ने नरसिंहपुर की प्रीति रैकवार को नगर की पहली महिला ई-रिक्शा चालक बनने का मौका दिया है।

प्रीति स्वयं का रोजगार स्थापित कर परिवार का सहारा बनना चाहती थी।

प्रीति को शुरू से ही वाहन चलाने का शौक रहा है। उसके पास पिछले पांच साल से एलएमव्ही ड्रायविंग लायसेंस  भी है।

प्रीति को संबल योजना में ई-रिक्शा प्राप्त हुआ है।

प्रीति के पिता दवाई की दुकान में काम करते है और संबल योजना में पंजीकृत है।

बैंक ऑफ इंडिया से ई-रिक्शा के लिये एक लाख 70 हजार रूपये का बैंक ऋण स्वीकृत हुआ।

ऋण के साथ 34 हजार रूपये की सब्सिडी भी मिली।

प्रीति का ई-रिक्शा नगरवासियों की पसंद बन गया है।

बैटरी चलित यह रिक्शा एक बार चार्ज करने लगभग सौ किलोमीटर का सफर करता है।

Print Friendly, PDF & Email