Vivekanand photo by B Rehi

सूर्य नमस्कार भारतीय संस्कृति का अंग, इससे व्यक्तित्व तेजस्वी बनता है

सूर्य नमस्कार भारतीय संस्कृति का अभिन्न अंग है,  इससे व्यक्तित्व तेजस्वी बनता है।

यह बात मध्य प्रदेश के जनसम्पर्क मंत्री पी सी शर्मा ने स्वामी विवेकानंद जयंती युवा दिवस पर भेपाल में 12 जनवरी,2019 को आयोजित राज्य स्तरीय सूर्य नमस्कार समारोह में कही। इस कार्यक्रम में स्कूल शिक्षा मंत्री डॉ. प्रभुराम चौधरी भी शामिल हुए।

सूर्य नमस्कार और योग – प्राणायाम को दिनचर्या मे शामिल करने से स्वस्थ और सुखी जीवन का मार्ग प्रशस्त होता है—शर्मा ने कहा ।

उन्होंने कहा कि स्वामी विवेकानंद के जीवन चरित्र से प्रेरणा लेकर आदर्श नागरिक बनें।

योग दिवस पर स्कूल शिक्षा मंत्री डॉ.चौधरी ने कहा कि योग भारतीय संस्कृति की पुरातन परंपरा है। इससे शरीर, मन और आत्मा की शुद्धि होती है। व्यक्ति पुरूषार्थ धर्म, अर्थ, काम और मोक्ष की प्राप्ति कर मानव जीवन को सार्थक कर सकता है।

प्रमुख सचिव स्कूल शिक्षा श्रीमती रश्मि अरुण शमी एवं अन्य वरिष्ठ अधिकारी, जन.प्रतिनिधि तथा बड़ी संख्या मे विद्यार्थियों ने कार्यक्रम मे भाग लिया।

 

 

 

Print Friendly, PDF & Email