सिद्धारमैया ने की शांति की अपील

बेंगलुरू, 13 सितम्बर | कर्नाटक के मुख्यमंत्री सिद्धारमैया ने मंगलवार को राज्य के निवासियों से शांति बनाए रखने की अपील की और कहा कि उनकी सरकार सर्वोच्च न्यायालय के कावेरी नदी के पानी को तमिलनाडु से साझा करने के ‘कठिन फैसले’ को लागू करेगी। दक्षिण कर्नाटक में आगजनी और बड़े पैमाने पर हुई हिंसा में एक व्यक्ति की मौत के अगले दिन यहां संवाददाताओं से बातचीत में मुख्यमंत्री ने कहा कि उनकी सरकार कड़ाई से कानून और व्यवस्था को लागू करेगी।

मुख्यमंत्री ने कहा, “यह सच है कि हिंसा किसी भी समस्या का समाधान नहीं है। हम समाज में शांति और सौहार्द बनाए रखना चाहते हैं, इसलिए हमने कानून व्यवस्था को बनाए रखने के लिए कड़ाई बरतने का फैसला किया है।”

सिद्धारमैया ने कहा कि उन्होंने प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी को इस मुद्दे में हस्तक्षेप करने के लिए पत्र लिखा है। उन्होंने कहा, “मैंने प्रधानमंत्री से इस मामले में दखल देने को कहा है। मैंने उनसे तुरंत मुलाकात का समय मांगा है।”

उन्होंने आगे कहा, “सर्वोच्च न्यायालय के फैसले को लागू करना काफी मुश्किल है, लेकिन हम बेंगलुरू, मैसूर, मांडया और कावेरी तट के अन्य क्षेत्रों में पीने के पानी की उपलब्धता सुनिश्चित करेंगे।”

उन्होंने कहा, “शीर्ष अदालत द्वारा कल (सोमवार) के आदेश का कारण पांच सितंबर को दिए गए फैसले को लागू करने में राज्य सरकार की असमर्थता है।” उन्होंने कहा कि पहले अदालत ने प्रतिदिन 15,000 क्यूसेक पानी जारी करने का आदेश दिया था, जिसे अब 12,000 क्यूसेक कर दिया गया है।

उन्होंने कहा कि बेंगलुरु न केवल राज्य की राजधानी है, बल्कि यह अंतर्राष्ट्रीय शहर है और सिलिकॉन वैली ऑफ इंडिया है। इसलिए यहां शांति बनाए रखें।

सिद्धारमैया ने संवाददताओं से भी स्थिति को सामान्य बनाने में मदद करने की गुजारिश की।–आईएएनएस

Print Friendly, PDF & Email