Modi in Karnataka

कर्नाटक में विधानसभा चुनाव 12 को, मतगणना 15 मई को

कर्नाटक में विधानसभा चुनाव के लिए मतदान 12 मई को होगा और मतगणना 15 मई को होगी। उम्मीद है कि 15 मई से ही मतदाताओं के भाग्य का फैसला होना शुरू हो जाएगा।

सभी राजनीतिक दलों के नेता चुनाव मैदान में जोरदार तरीके से जुटे हुए हैं। भाजपा की ओर से प्रधानमंत्री नरेन्‍द्र मोदी जोरदार प्रचार कर रहे हैं।

उन्होंने रविवार को कर्नाटक के चित्रदुर्ग में चुनावी रैली को संबोधित करते हुए किसानों को भरोसा दिलाया है कि अगर येदुरप्‍पा सरकार बनाते है तो सभी सिचांई परियोजनाओं को पूरा किया जाएगा और बुनियादी सुविधाओं का विकास किया जाएगा।

मोदी ने कहा कि अब समय आ गया है कोग्रेस पार्टी को अलविदा कह देना चाहिए जिसे दलितों के कल्‍याण की जरा भी परवाह नहीं है।

मोदी ने कहा कि कांग्रेस दलितों को वोट बैंक समझती है और उसने दलित चेतना के प्रतीक डॉ. बाबा साहिब भीमराव आम्‍बेडकर की अनदेखी की है। उन्‍होंने कहा कि भाजपा सरकार ने ही डॉ. आम्‍बेडकर को भारत रत्‍न प्रदान किया और उनके सम्‍मान में पांच स्‍मारक बना रही है।

इससे पहले शनिवार को प्रधानमंत्री मोदी ने कर्नाटक के तुमकुरु, गडग और शिवमोगा में आयोजित विशाल जन-सभाओं में कहा कि भारतीय जनता पार्टी आधुनिक, प्रगतिशील और विकासशील कर्नाटक का सपना लेकर चल रही है।

मोदी ने कहा कि आगामी 15 मई, 2018 के बाद इंडियन नेशनल कांग्रेस नहीं रहेगी बल्कि यह पीपीपी कांग्रेस अर्थात् पंजाब, पुद्दुच्चेरी, परिवार कांग्रेस बन जायेगी और कांग्रेस पार्टी को पीपीपी कांग्रेस पार्टी बनाने का काम भी कर्नाटक की जनता करेगी।

2014 के बाद से देश में जितने भी चुनाव हुये, लगभग उन सभी चुनावों में कांग्रेस की हार हुई है और भारतीय जनता पार्टी की जीत हुई है।

उन्होंने  कहा कि तमाम सर्वेक्षणों में जनता दल सेक्युलर (जेडीएस) राज्य में तीसरे नंबर पर रहने वाली है, ऐसे में कर्नाटक की जनता जेडीएस को अपना वोट देकर खराब न करे क्योंकि केवल भारतीय जनता पार्टी ही एकमात्र ऐसी पार्टी है जो कांग्रेस की भ्रष्टाचारी सिद्धारमैया सरकार को हरा सकती है।

मुख्यमंत्री सिद्धारमैया ने बीजेपी पर सीधा वार किया और कहा कि बीजेपी प्रधानमंत्री पर ज्‍यादा भरोसा करती है, क्योंकि उनके राज्य नेता की कोई अहमियत नहीं है। कांग्रेस पार्टी आराम से जीत जाएगी।

Print Friendly, PDF & Email