मानसून आगे बढ़ा, पश्चिमी तट के पास भारी वर्षा की संभावना

एक सरकारी विज्ञप्ति के अनुसार मानसून आगे बढ़ रहा है और  तटवर्ती कर्नाटक, गोवा और दक्षिण महाराष्‍ट्र में 10 जून तक भारी वर्षा होने की संभावना है।

शनिवार से मुंबई सहित उत्‍तर तटीय महाराष्‍ट्र की ओर वर्षा हो सकती है।

इस अवधि में इन क्षेत्रों में कुछ स्‍थानों पर भारी वर्षा होने की संभावना है। इन क्षेत्रों में वर्षा की स्थिति में 12 जून से सुधार होगा।

मानसून का आगे बढ़ा:

दक्षिण पश्चिमी मानसून मध्‍य अरब सागर के कुछ भागों, गोवा, कर्नाटक तथा रायलसीमा के शेष इलाकों, दक्षिण कोंकण के कुछ क्षेत्रों, दक्षिण मध्‍य महाराष्‍ट्र, मराठवाड़ा, विदर्भ, दक्षिण छत्‍तीसगढ़ और दक्षिण ओडिशा, संपूर्ण तेलंगाना, तटवर्तीय आंध्र प्रदेश के कुछ हिस्‍सों की ओर बढ़ गया है।

मानसून की उत्‍तरी सीमा अक्षांश 170 उत्‍तर/देशांतर 600 पूर्व, अक्षांश 170 उत्‍तर/देशांतर 700 पूर्व रत्‍नागिरी, सोलापुर, नांदेड़, अादिलाबाद, बैलाडीला, मल्कानगिरी, कलिंगपट्टनम, अक्षांश 210 उत्‍तर/देशांतर 900 पूर्व अगरतला लुमडिंग, उत्‍तर लखीमपुर तथा अक्षांश 290 उत्‍तर/देशांतर 950 पूर्व से गुजरती है। (रेखाचित्र 1 )

अगले 48 घंटों में दक्षिण पश्चिम मानसून के लिए मध्‍य अरब सागर के कुछ हिस्‍सों, महाराष्‍ट्र (मुंबई सहित), छत्‍तीसगढ़, ओडिशा और तटवर्तीय आंध्र प्रदेश के शेष भागों की ओर बढ़ने की परिस्थितियां अनुकूल हैं।

विज्ञप्ति में कहा गया है कि मानसून के मजबूत होने से पश्चिमी तट के पास भारी वर्षा की संभावना है।

10 जून तक तटवर्ती कर्नाटक, गोवा और दक्षिण महाराष्‍ट्र में भारी वर्षा होने की संभावना है। शनिवार से मुंबई सहित उत्‍तर तटीय महाराष्‍ट्र की ओर वर्षा हो सकती है।

अगले पांच दिनों के लिए तिथिवार भारी वर्षा की चेतावनी:

 

क्षेत्र 08 जून 09 जून 10 जून 11 जून 12 जून
तटीय कर्नाटक छिटपुट स्‍थानों पर  भारी वर्षा के साथ अलग-अलग स्‍थानों पर भारी से बहुत भारी वर्षा छिटपुट भारी से बहुत भारी छिटपुट भारी से बहुत भारी छिटपुट भारी छिटपुट भारी से बहुत भारी
गोवा छिटपुट स्‍थानों पर  भारी वर्षा के साथ अलग-अलग स्‍थानों पर भारी से बहुत भारी वर्षा अलग-अलग स्‍थानों पर भारी से भारी वर्षा छिटपुट भारी से बहुत भारी छिटपुट भारी से बहुत भारी छिटपुट भारी
दक्षिण कोंकण छिटपुट स्‍थानों पर  भारी वर्षा के साथ अलग-अलग स्‍थानों पर भारी से बहुत भारी वर्षा छिटपुट स्‍थानों पर  भारी वर्षा के साथ अलग-अलग स्‍थानों पर भारी से बहुत भारी वर्षा अलग-अलग स्‍थानों पर भारी से बहुत भारी छिटपुट भारी से बहुत भारी छिटपुट भारी
उत्‍तर कोंकण अलग-अलग स्‍थानों पर भारी से बहुत भारी वर्षा छिटपुट  स्‍थानों पर  भारी वर्षा के साथ अलग-अलग स्‍थानों पर भारी से बहुत भारी वर्षा अलग-अलग स्‍थानों पर भारी से बहुत भारी वर्षा छिटपुट भारी से बहुत भारी छिटपुट भारी
दक्षिण महाराष्‍ट्र के भीतरी भाग छिटपुट स्‍थानों पर  भारी वर्षा के साथ अलग-अलग स्‍थानों पर भारी से बहुत भारी वर्षा छिटपुट स्‍थानों पर अत्‍याधिक भारी वर्षा के साथ अलग-अलग स्‍थानों पर भारी से बहुत भारी वर्षा छिटपुट भारी शून्‍य शून्‍य
उत्‍तर महाराष्‍ट्र के भीतरी भाग शून्‍य छिटपुट भारी छि
Print Friendly, PDF & Email