Afghanistan blast TV photo

अफगानिस्तान में हुए विस्फोट में सिख समुदाय के 10 लोग मारे गए

रविवार को पूर्वी अफगान शहर जलालाबाद के केंद्र में एक आत्मघाती हमलावर द्वारा किये गए विस्फोट में सिख अल्पसंख्यक समुदाय के कम से कम 10 लोग मारे गए।

विस्फोट के लिए किसी भी आतंकवादी गुट ने तत्काल कोई ज़िम्मेदारी नहीं ली है।

भारत ने अफगानिस्तान में हुए सिखों के एक काफिले पर आतंकवादी हमले को जघन्य और डरावनी घटना बताते हुए इस घटना की कड़ी निन्दा की है।

TV Photo Afghanistan blast

विस्फोट में अल्पसंख्यक सिख समुदाय का प्रतिनिधित्व करने वाले एक राजनीतिज्ञ अवतार सिंह खालसा की मौत हो गई ।

अधिकारियों ने कहा कि अवतार सिंह खालसा, जिन्होंने अक्टूबर के संसदीय चुनावों में खड़े होने की योजना बनाई थी, मृतकों में शामिल हैं ।

नंगारहर के पुलिस प्रमुख ने कहा कि विस्फोट एक आत्मघाती हमलावर के कारण हुआ था, जिसने सिख अल्पसंख्यक के सदस्यों को ले जाने वाले वाहन को लक्षित किया जो राष्ट्रपति से मिलने के लिए जा रहे थे।

अधिकारियों ने कहा कि कम से कम 10 मृतक सिख थे।

अफगानिस्तान एक मुस्लिम राष्ट्र है लेकिन देश में हिंदुओं और सिखों की बहुत ही कम तादाद है।

अफगान संसद में एक सीट देश के अल्प संख्यक सिख और हिंदू समुदायों के लिए आरक्षित है। बार.बार धमकियों के चलते अधिकांश सिख्र  और हिन्दू वहां से पलायन करके भारत वले आए हैं।

काबुल में भारतीय दूतावास के अधिकारियों ने दस सिखों की मौत की पुष्टि की और जलालाबाद में ष्आतंकवादी हमले की निंदा की।

Print Friendly, PDF & Email