Narendra Modi and Shinzo Abe

भारत में जापान के निवेशक 2.5 बिलियन डॉलर का नया निवेश करेंगे

जापान के निवेशकों ने भारत में 2.5 बिलियन डॉलर के नए निवेश की घोषणा की है। इससे भारत में लगभग 30 हज़ार लोगों को रोज़गार मिलेगा।

यह जानकारी शिखर सम्मेलन के बाद प्रधान मंत्री नरेंद्र मोदी ने सोमवार को टोक्यो में अपने प्रेस वक्तव्य में दी है।

भारत और जापान ने छह समझौतों पर हस्ताक्षर किये है। सोमवार को टोक्यो में प्रधान मंत्री नरेंद्र मोदी और शिन्जो आबे के नेतृत्व में 13 वें वार्षिक द्विपक्षीय शिखर सम्मेलन के बाद रक्षा और विकास परियोजनाओं पर दो महत्वपूर्ण घोषणाएं की हैं।

इसके अलावा दोनों पक्ष द्विपक्षीय रक्षा संबंधों को बढ़ाने के लिए दोनों देशों के विदेश मंत्रियों और रक्षा मंत्रियों के बीच आपसी  बातचीत करने पर भी सहमत हुए हैं।

प्रधान मंत्री नरेंद्र मोदी ने स्पष्ट कहा कि 21वीं सदी एशिया की सदी है। लेकिन इसके रुप-स्वरुप पर प्रश्न हैं। किसका फायदा होगा, क्या करना होगा, ऐसे बहुत से सवाल हैं। लेकिन एक बात साफ है। भारत और जापान के सहयोग के बिना 21वीं सदी एशिया की सदी नहीं हो सकती।

जापान के प्रधान मंत्री  आबे को संबोधित करते हुए मोदी ने कहा कि अगले वर्ष जापान ओसाका में G-20 Summit की मेज़बानी करेगा। अगले वर्ष रगबी World Cup भी जापान में आयोजित किया जायेगा। पहली बार यह tournament एशिया में आयोजित होगा। और फिर 2020 में Olympics ( ओलमपिक्स ) का आयोजन टोक्यो में होगा। इन सभी महत्वपूर्ण वैश्विक events के लिए, मेरी ओर से, और समस्त भारत की ओर से, हमारी हार्दिक शुभकामनाएं आपके साथ हैं।

 

Print Friendly, PDF & Email