Venkaiah naidu

शिक्षण संस्थाओं में कुछ समय के लिए एनसीसी को अनिवार्य बनाया जाए

देश की सभी शिक्षण संस्थाओं में कुछ समय के लिए राष्ट्रीय कैडेट कोर एनसीसी को अनिवार्य बनाया जाना चाहिए।

उपराष्ट्रपति एम. वेंकैया नायडू ने सोमवार को नई दिल्ली में एनसीसी गणतंत्र दिवस शिविर के उद्घाटन के अवसर पर कैडेटों को संबोधित करते हुए यह राय कही।

उन्होंने कहा कि एकता और देशभक्ति भाव भरने वाला यह शिविर यादगार और प्रेरक अनुभव प्रदान करेगा।

नायडू ने कहा कि एनसीसी के प्रशिक्षण ने अनुशासन, नेतृत्व, भाईचारा, टीम भावना, साहस और राष्ट्रीय एकीकरण के गुणों को अपनाने में महत्वपूर्ण भूमिका अदा की है। इससे देश के युवाओं का समग्र विकास होगा और उनका भविष्य बेहतर होगा।

उन्होंने कहा कि यह शिविर न केवल देश को बेहतर तरीके से समझने का अनूठा अवसर प्रदान करेगा बल्कि कैडेटों को व्यापकता प्रदान करेगा और दूसरे देशों के समकक्ष कैडेटों के साथ अटूट मित्रता निभाने में भी सहायक होगा।

उन्होंने कहा कि एनसीसी का उद्देश्य सर्वव्यापी भाईचारा, राष्ट्रीय एकता और धर्मनिर्पेक्षता है।

नायडू ने संकट, भूंकप, बाढ जैसी प्राकृतिक आपदाओँ के समय में एनसीसी कैडेटों की निःस्वार्थ सेवा भावना की प्रशंसा की।

जीवन के सभी क्षेत्रों के उत्कृष्टता के लिए कैडेटों को बधाई देते हुए उपराष्ट्रपति ने खेल विशेषकर निशानेबाजी में असाधारण प्रदर्शन दिखाने के लिए कैडेटों की सराहना की।

उद्घाटन समारोह में एनसीसी के महानिदेशक लेफ्टिनेंट जनरल पीपी मल्होत्रा, अधिकारी तथा 500 से अधिक कैडेटों ने भाग लिया।

Print Friendly, PDF & Email