Rahul Tejaswi

शेल्टर होम में बच्चियों के साथ हुए यौन शोषण के विरोध में प्रदर्शन

बिहार के मुजफ्फरपुर शेल्टर होम में बच्चियों के साथ हुए यौन शोषण के विरोध प्रदर्शन के बहाने विरोधी दलों नेअपनी एकता का प्रदर्शन किया और सरकार द्वारा देर से की गई कार्रवाई की निन्दा की।

यौन शोषण के विरोध में प्रदर्शन के लिए राजद के आह्वान पर दिल्ली के जंतर मंतर पर शनिवार को विपक्षी दलों ने नीतीश सरकार की जम कर निन्दा की।

उधर बिहार के मुख्य मंत्री नीतीश कुमार ने मुजफ्फरपुर कांड की जांच सीबीआई को सौंप दी है।

बिहार के पूर्व उप मुख्य मंत्री और राजद नेता तेजस्वी यादव ने दिल्ली के जंतर-मंतर पर विरोध प्रदर्शन और कैंडल लाइट मार्च का आह्वान किया था। इसमें कांग्रेस, समाजवादी पार्टी, सीपीएम, आम आदमी पार्टी, डीएमके, तृणमूल कांग्रेस, राष्ट्रीय लोक दल जैसी पार्टियां शामिल हुई।

विरोध सभा में राहुल गांधी ने कहा ‘आप देख रहे हैं कि पूरा विपक्ष एक साथ खड़ा है। पूरा देश एक साथ एक तरफ खड़ा है और बीजेपी.आरएसएस दूसरी तरफ।’

राहुल ने कहा ‘हम मुजफ्फरपुर के लिए ही नहीं पूरे देश की महिलाओं के लिए आए हैं। हम यह बताने आए हैं कि हम देश की जनता के साथ खड़े हैं। महिलाओं के साथ खड़े हैं। हम पीड़ित बच्चियों के साथ खड़े हैं।

तेजस्वी यादव ने  नीतीश सरकार की निंदा करते हुए कहा कि उन्हें इस्तीफा दे देना चाहिए। तेजस्वी ने  आरोपी बृजेश ठाकुर के साथ उनके निजी  रिश्तो की भी चर्चा की।

Print Friendly, PDF & Email