पुणे का प्रदर्शन दोहराया नहीं जाएगा : कोहली

बेंगलुरू, 03 मार्च| भारतीय क्रिकेट टीम के कप्तान विराट कोहली ने दूसरे टेस्ट मैच से पहले शुक्रवार को प्रंशसकों को आश्वस्त करते हुए कहा है कि पहले मैच जैसी स्थिति आगे के तीन मैचों में उन्हें देखने को नहीं मिलेगी। श्रृंखला से पहले कमजोर समझी जा रही आस्ट्रेलिया ने पहले मैच में भारत को तीन दिन में करारी हार देकर उसके 19 मैचों के अजेय सिलसिले को रोक दिया था।

कोहली ने दूसरे टेस्ट मैच से पहले संवाददाता सम्मेलन में कहा, “हमारा मानना है कि हम यहां से भी श्रृंखला जीत सकते हैं। मैं आपको आश्वस्त कर सकता हूं कि टीम का हर खिलाड़ी इसे चुनौती के तौर पर ले रहा है और हालात बदलने के लिए तैयार है। हमारी कोशिश उस तरह का क्रिकेट खेलने की है जिसके लिए हम जाने जाते हैं। हम यहां से पीछे नहीं जाएंगे।”

उन्होंने कहा, “हम जानते हैं कि हम अच्छा नहीं खेले और आस्ट्रेलिया ने अच्छा खेल दिखाया। लेकिन इसका मतलह यह नहीं है कि हर मैच में ऐसा होगा। अगर आप हर दिन, हर सत्र में अच्छा खेलोगे तो आप टेस्ट मैच जीत सकते हो। हमने ऐसा नहीं किया। आप इस तरह का प्रदर्शन दोबारा नहीं देखेंगे। मैं आपको इस बात का विश्वास दिलाता हूं।”

विराट ने पुणे में मिली हार को दुखद बताया है।

उन्होंने कहा, “कई बार हार भी जरूरी होती है। ऐसा बहुत कम होता है जब पूरी टीम विफल हो जाए। पुणे ऐसे दिनों में से एक था। हम जिस तरह से खेले उसके हिसाब से पुणे का प्रदर्शन निराशाजनक था। लेकिन जिस तरह से हम हारे वह तभी होता है जब आपके इरादे में कमी हो।”

उन्होंने कहा, “हार आपको मौका देती है यह समझने का कि कहां काम करने की जरूरत है। जब आप जीतते हैं तो आप हर चीज पर ध्यान नहीं दे पाते। लेकिन हम अब किसी भी स्तर पर हालात को हल्के में नहीं लेंगे। यह हमारे लिए सदमा नहीं था बल्कि इस तरह की चीजों की हमें जरूरत होती है।”

कोहली ने अंतिम एकदाश पर तो कुछ नहीं बोला लेकिन जयंत यादव की सराहना जरूर की।

उन्होंने कहा, “जयंत अच्छे खिलाड़ी हैं। वह काफी चतुर भी हैं। हम सभी बुरे दौर से गुजरते हैं। पुणे में वह अच्छा नहीं खेले थे, लेकिन उस पर मैं उनको परखूंगा नहीं क्योंकि उन्हें कम मौका मिला। वह जानते हैं कि हालात कैसे बदले जाते हैं।”  –आईएएनएस

 

Print Friendly, PDF & Email