Parliament

पहले चरण में चुनाव लड़ रहे 17 प्रतिशत उम्मीदवारों का अपराधिक रिकार्ड

नेशनल इलेक्शन वॉच एंड एसोसिएशन फॉर डेमोक्रेटिक रिफॉर्म्स ADR द्वारा जारी विश्लेषण के अनुसार पहले चरण में 17 प्रतिशत ऐसे उम्मीदवार चुनाव लड़ रहे हैं जिनके विरुद्ध अपराधिक मामले Criminal Cases दर्ज हैं।

लोक सभा के पहले चरण के लिए 11 अप्रैल को मतदान होगा।

ADR के अनुसार लोक सभा चुनाव 2019 के पहले चरण में 1266 उम्मीदवारों में से 213 उम्मीदवारों ने अपने खिलाफ दर्ज आपराधिक मामलों Criminal Cases  की जानकारी दी है।

ADR के अनुसार  इनमें 13 उम्मीदवार ऐसे हैं, जिनके बारे में कोई विश्लेषण नहीं किया गया है क्योंकि इस रिपोर्ट को तैयार करते समय पूर्ण हलफनामे प्राप्त नहीं हुए थे।

1- आपराधिक मामलों वाले उम्मीदवार  — 1266 में से 213 उम्मीदवारों ने अपने खिलाफ दर्ज आपराधिक मामलों Criminal Cases की जानकारी दी है, जो कुल उम्मीदवारों का 17 प्रतिशत है

2 – गंभीर आपराधिक मामले — 1266 में से 146 (12%) ने अपने खिलाफ गंभीर आपराधिक मामले Criminal Cases दर्ज जानकारी दी हैं।

3 – सजायाफ्ता मामले  —12 उम्मीदवारों ने खुद के खिलाफ सजायाफ्ता मामलों की जानकारी दी है।

4 – हत्या  से संबंधित मामले — 10 उम्मीदवारों ने खुद के खिलाफ हत्या (आईपीसी धारा -302) से संबंधित मामलों की घोषणा की है।

5 – हत्या के प्रयास — 25 उम्मीदवारों ने खुद के खिलाफ हत्या (आईपीसी धारा 307) के प्रयास से संबंधित मामलों की घोषणा की है।

6 – अपहरण के प्रयास आदि —  4 उम्मीदवारों ने जानकारी दी है कि उनके विरुद्ध फिरौती के लिए अपहरण, अपहरण या हत्या करने के लिए अपहरण, अपहरण या महिला को शादी के लिए मजबूर करने आदि से संबंधित मामले हैं।

7 – महिलाओं के खिलाफ अपराध — 16 उम्मीदवारों ने महिलाओं के खिलाफ अपराध से संबंधित मामलों Criminal Cases की जानकारी दी है इसमें बलात्कार, क्रूरता, धमकाना जैसे मामले हैं। इसमें भदसं की धाराओं 378, 354, 498 ए के अंतर्गत मामले दर्ज किये गए हैं।

8 – हेट स्पीच — 12 उम्मीदवारों ने बताया है कि उनके खिलाफ नफरत से भरी भाषा के इस्तेमाल का आरोप है।

ADR के अनुसार  आपराधिक मामलों  Criminal Cases  वाले उम्मीदवार:

  • भाजपा के 83 उम्मीदवारों में से 30 (36%),
  • कांग्रेस के 83 उम्मीदवारों में से 35 (42%),
  • बसपा के 32 उम्मीदवारों में से 8 (25%),
  • तेलुगूदेशमपार्टी के 25 उम्मीदवारों में से 2 (8%)
  • वाईएसआरसीपी के  25 उम्मीदवारों में से 22 (88%)
  • टीआरएस के 17 उम्मीदवारों में से 3 (18%) ने अपने खिलाफ आपराधिक मामले की जानकारी दी हैं।

 

Print Friendly, PDF & Email