फरार दयाशंकर की पत्नी ने मायावती पर मामला दर्ज कराया

लखनऊ, 22 जुलाई । बहुजन समाज पार्टी (बसपा) प्रमुख मायावती पर अमर्यादित टिप्पणी करने पर भाजपा से निष्कासित नेता दयाशंकर सिंह के परिजनों ने बसपा के प्रदर्शन के दौरान दयाशंकर की पत्नी स्वाति सिंह और उनकी बेटियों पर की गई टिप्पणियों के खिलाफ एफआईआर दर्ज कराई है।

फरार नेता दयाशंकर सिंह की मां तेतरा सिंह की तहरीर पर मायावती, नसीमुद्दीन सिद्दीकी, बसपा प्रदेश अध्यक्ष रामअचल राजभर और राष्ट्रीय सचिव मेवालाल समेत अज्ञात बसपा कार्यकर्ताओं के खिलाफ हजरतगंज थाने में एफआईआर दर्ज की गई है।

पहले मुकदमा दर्ज करने में अड़चनें बताई जा रही थीं, जिसके चलते तीन घंटे तक एफआईआर लटकी रही। फिर जब दयाशंकर की पत्नी और मां पहुंचीं तब मामला दर्ज कर लिया गया।

एएसपी (पूर्वी) शिवराम यादव ने बताया कि इन सभी लोगों के खिलाफ आईपीसी की धारा 120बी, 153ए, 504, 506, 509 के तहत एफआईआर दर्ज की गई है। इस मामले में क्षत्रिय समाज की ओर से भी एक तहरीर दी गई थी।

वहीं तेतरा सिंह के वकील दिलीप श्रीवास्तव ने बताया कि गुरुवार को बसपा के प्रदर्शन के दौरान बसपाइयों ने दयाशंकर के परिजनों को लेकर अभद्र टिप्पणी की थी। बसपाइयों ने भाजपा से निष्कासित नेता दयाशंकर सिंह की गिरफ्तारी के अलावा दयाशंकर सिंह की बहन, पत्नी और बेटी के लिए अपशब्द कहे गए थे। इसके विरोध में दयाशंकर की मां तेतरा सिंह ने हजरतगंज कोतवाली में तहरीर दी।

थाना प्रभारी हजरतगंज विजयमल यादव ने बताया कि तहरीर के आधार पर बसपा प्रमुख मायावती, नसीमुद्दीन सिद्दीकी, रामअचल राजभर के खिलाफ मामला दर्ज कर जांच शुरू कर दी गई है।

एफआईआर में पार्टी के राष्ट्रीय सचिव मेवालाल को भी नामजद किया गया है। मेवालाल ने दयाशंकर सिंह के खिलाफ हजरतगंज थाने में मामला दर्ज कराया था।

गौरतलब है कि दयाशंकर सिंह ने टिकट बिक्री के मामले पर टिप्पणी करते हुए मायावती की तुलना एक ‘यौनकर्मी’ से कर दी थी। उन्होंने जो शब्द कहा, वह लिखे जाने लायक नहीं है।

भाजपा ने दयाशंकर पर कार्रवाई करते हुए पहले सारे पदों से हटाया, फिर पार्टी से निष्कासित कर दिया था। वहीं दयाशंकर के खिलाफ हजरतगंज कोतवाली में मुकदमा भी दर्ज कर लिया गया था।(आईएएनएस/आईपीएन)

Print Friendly, PDF & Email