Modi

मुश्किल हालात में परीक्षा पास करने वाले छात्रों को मोदी ने बधाई दी

प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी ने  विपरीत परिस्थियों के बावजूद अपनी लगन और निष्ठा से परीक्षाओं में सफलता हासिल करने वाले गरीब छात्रों को बधाई दी और उनके प्रयास को प्रेरणादायी बताया।

“ऐसे कितने ही छात्र हैं जो ग़रीब परिवार से हैं और विपरीत परिस्थियों के बावज़ूद अपनी मेहनत और लगन से उन्होंने कुछ ऐसा कर दिखाया है, जो हम सबको प्रेरणा देता है।”

यह बात प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी ने रविवार को आकाशवाणी से प्रसारित कार्यक्रम ‘मन की बात’ की 46वीं कड़ी में विभिन्न परीक्षाएं पास करने के बाद नयी पारी प्रारम्भ करने वाले सभी नौजवानों को शुभकामनाएं देते हुए कही।

File photo

प्रधानमंत्री ने कहा कि  मैं News में देख रहा था कि कैसे मध्यप्रदेश के एक अत्यंत ग़रीब परिवार से जुड़े एक छात्र आशाराम चौधरी ने जीवन की मुश्किल चुनौतियों को पार करते हुए सफ़लता हासिल की है।

  • चौधरी ने जोधपुर AIIMS की MBBS की परीक्षा में अपने पहले ही प्रयास में सफ़लता पायी है। उनके पिता कूड़ा बीनकर अपने परिवार का पालन-पोषण करते हैं। मैं उनकी इस सफ़लता के लिए उन्हें बधाई देता हूँ।
  •  मोदी ने  कहा कि चाहे वो दिल्ली के प्रिंस कुमार हों, जिनके पिता DTC में बस चालक हैं या फिर
  • कोलकाता के अभय गुप्ता जिन्होंने फुटपाथ पर street lights के नीचे अपनी पढ़ाई की।
  • अहमदाबाद की बिटिया आफरीन शेख़ हो, जिनके पिता auto rickshaw चलाते हैं।
  • नागपुर की बेटी खुशी हो, जिनके पिता भी स्कूल बस में driver हैं या
  • हरियाणा के कार्तिक, जिनके पिता चौकीदार हैं या
  • झारखण्ड के रमेश साहू जिनके पिता ईंट-भट्टा में मजदूरी करते हैं। ख़ुद रमेश भी मेले में खिलौना बेचा करते थे या फिर
  • गुडगाँव की दिव्यांग बेटी अनुष्का पांडा, जो जन्म से ही spinal muscular atrophy नामक एक आनुवांशिक बीमारी से पीड़ित है, इन सबने अपने दृढसंकल्प और हौसले से हर बाधा को पार कर – दुनिया देखे ऐसी कामयाबी हासिल की।  हम अपने आस-पास देखें तो हमको ऐसे कई उदाहरण मिल जाएँगे।
Print Friendly, PDF & Email