Category Archives: Comments/Interview

Subodh Kant

झारखण्ड में आदिवासी भूखे मर रहेे हैं : सुबोध कांत सहाय

पूर्व केन्द्रीय मंत्री एवं काॅंग्रेस के वरिष्ठ नेता सुबोध कांत सहाय का आरोप है कि झारखण्ड में आदिवासी भूखे मर रहेे हैं, बडे़ शहरों में आदिवासी बच्चियों की खरीद-फरोख्त हो रही है, राज्य में किसान आत्महत्या कर रहे हैं, सिमडेगा, हजारीबाग, रांची ही नहीं राज्य के हरेक प्रखण्ड में अगर…

Loksahitya

लोकभावनाओं को ध्यान में रख साहित्य रचना करें

लोकभावनाओं को ध्यान में रख साहित्य रचना कीजाय। यह केन्द्रीय विचार था रविवार को पुस्तक मेले में हुई संगोष्ठी का। इस संगोष्ठी में अनेक जाने माने साहित्यकारों ने भाग लिया। महिला बुद्धिजीवियों के संगठन ‘जिया’ एवं राष्ट्रीय पुस्तक न्यास के संयुक्त तत्वावधान में रविवार को विश्व पुस्तक मेले के साहित्य…

meeting

गुजरात में दूसरे दौर का चुनाव प्रचार थम गया

गुजरात में दूसरे दौर का चुनाव प्रचार थम गया और प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी ने अहमदाबाद के साबरमती रिवर फ्रंट से सी प्लेन से अंबाजी मन्दिर की उड़ान भर ली। दूसरी ओर उन्होंने ट्वीट कर कहा कि केन्द्र और गुजरात मिलकर 1 और एक दो नहीं, 11 होंगे। दूसरी दौर का मतदान…

समस्याओं का समाधान एक टाइम पीरियड में संभव नहीं

झारखण्ड विधानसभा में कांके निर्वाचन क्षेत्र से चुने गए भाजपा विधायक डाॅ जीतू चरन राम से पंकज पुष्कर ने उनके क्षेत्र में किये गये विकास कार्यों के बारे में विस्तार से बातचीत की। यहां प्रस्तुत हैं उनसे हुई बातचीत के कुछ अंश : आपके कार्यकाल के एक हजार दिन बीत…

signboard

राज्य सरकारें भाषा के नाम पर दबंगई सख्ती से दबाएं

मुंबई में एमएनएस के कार्यकर्ताओं ने गुजराती में लिखे साइन बोर्ड हटाने का अभियान शुरू किया है। उधर बैंगलूरू में हिन्दी के पोस्टर्स और साइन बोर्डों पर कालिख पोती जारही है। भारत की सभी भाषाएं और बोलियां भारत माता की जुबान हैं। ‘भारत माता की जय’ का नारा लगाने वालों…

high speed train

काश कि चीन जैसी हाई स्पीड ट्रेन भारत में चले

नई दिल्ली, 16 जुलाई (जनसमा)।  भारत में हाई स्पीड ट्रेन का सपना कब साकार होगा, यह तो सरकार ही बता सकती है किन्तु हाल ही में चीन की यात्रा से लौटे वी के मिश्रा का कहना है कि जिस तरह की आधुनिकतम, सुविधाजनक और व्यवस्था वाली हाई स्पीड ट्रेन चीन…

बुजुर्ग होने पर क्या करें ?

हर इंसान फिर चाहे वह औरत हो या मर्द – एक न एक दिन उम्रदराज होता है। जिंदगी की सीढि़यां चढ़ते हुए इंसान जब 60 साल की उम्र पार करता है तब भी उसके सामने कई प्रकार की चुनौतियां खड़ी हुई दिखाई देती हैं। यह कितनी विचित्र बात है कि…

Modi

राजनीति से हटकर रोटी,पानी और पक्षियों की बात करते प्रधानमंत्री

प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी के 30 अप्रैल, 2017 के ‘मन की बात’ के प्रसारण से कुछ अंश हर बार जितने inputs ‘मन की बात’ के लिये आते हैं, सरकार में उसका detail analysis होता है | सुझाव किस प्रकार के हैं, शिकायतें क्या हैं, लोगों के अनुभव क्या हैं | आमतौर…

निजी जीवन में वह बेहद स्पोर्टी रही हैं तापसी

नई दिल्ली, 4 अप्रैल | फिल्म अभिनेत्री तापसी पन्नू ने अभी तो ‘चश्मेबद्दूर’, ‘बेबी’, ‘पिंक’ और ‘नाम शबाना’ -ये चार फिल्में ही की हैं, लेकिन इस छोटे से अंतराल में ही उन्होंने अपने दमदार अभिनय से दर्शकों और आलोचकों, सभी का दिल जीत लिया है। हाल ही में रिलीज हुई…

फिल्म नहीं बनती तो लोग मुझे जान ही नहीं पाते : पूर्णा मालावत

नई दिल्ली, 31 मार्च | पर्वतारोहण पर बनी फिल्म ‘पूर्णा’ इन दिनों चर्चा में है। अभिनेता राहुल बोस द्वारा निर्देशित इस फिल्म में 13 साल की लड़की के एवरेस्ट फतह करने के सफर को दर्शाया गया है लेकिन कितने लोग इस फिल्म की प्रेरणास्रोत्र रही पूर्णा मालावत के बारे में…